जम्मू कश्मीर में तीन परिवारों का रहा शासन, अब जनता मांग रही हिसाब: अमित शाह

नई दिल्ली: गृह मंत्री अमित शाह जम्मू कश्मीर के तीन दिवसीय दौरे पर है। दौरे के दूसरे दिन  शाह ने जम्मू में कई योजनाओं का शिलान्यास किया। इस दौरान अमित शाह ने कहा कि धारा 370 हटने के बाद मैं पहली बार जम्मू कश्मीर आया हूं। अब जम्मू कश्मीर का विकास होगा और ये प्रदेश, देश को आगे बढ़ाने में अपना योगदान देगा।

गृह मंत्री ने कहा, जम्मू कश्मीर मोदी के दिल में बसता है. यहां अगले दो साल में जम्मू और श्रीनगर में मेट्रो चलने लगेगी. जम्मू एयरपोर्ट का विस्तार किया जा रहा है. हर जिले में हेलिकॉप्टर सर्विस शुरू होगी।

गृह मंत्री ने कहा कि पहले जम्मू में सिखों, खत्रियों, महाजनों को भूमि खरीदने का अधिकार नही थे। भारत के संविधान के सभी अधिकार अब मेरे इन भाइयों को मिलने वाले हैं। एक जमाना था कि जम्मू-कश्मीर में कहने को पांच मगर चार ही मेडिकल कॉलेज थे। लेकिन जम्मू-कश्मीर में अब सात नए मेडिकल कॉलेजों की स्थापना हो चुकी है। पहले 500 स्टू़डेंट्स यहां से MBBS कर सकते थे, अब लगभग 2,000 छात्र यहां MBBS कर पाएंगे। शाह ने कहा कि जम्मू कश्मीर की शांति में खलल डालने वालों को कभी सफल नहीं होने देंगे। आज मैं आपसे यह कहने आया हूं कि जम्मू कश्मीर वालों के साथ अन्याय का समय खत्म हो चुका। अब कोई आपके साथ अन्याय नहीं कर सकता।

उन्होंने कहा, 5 अगस्त 2019 को प्रधानमंत्री मोदी ने ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए अनुच्छेद 370 और 35ए को खत्म किया। इससे जम्मू-कश्मीर के लाखों लोगों को अपने अधिकार प्राप्त हुए। अब भारतीय संविधान के सभी अधिकार यहां के सभी लोगों को मिल रहे हैं.

 

-PTC NEWS