जनता दरबार मामला: हरियाणा सरकार की ओर से अधिकारियों को निर्देश जारी

हरियाणा: हरियाणा सरकार द्वारा विधायकों औऱ मंत्रियों द्वारा लगाए जाने वाले जनता दरबार के मामले में तमाम विभागों और अधिकारियो को निर्देश जारी किए गए हैं। इन निर्देशों में कहा गया है कि जनता दरबार में आने वाली शिकायतों को तय वक्त पर समाधान नहीं हो रहा है और कई शिकायतों के निपटान की सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है।

 

मुख्य सचिव की ओर से तमाम विभागों के अधिकारियों को जारी पत्र में ये निर्देश दिए गए हैं कि जनता दरबार से आने वाली शिकायतों को अधिकारी निजी तौर पर देखें, उनका संज्ञान लें और उनका तय वक्त पर गंभीरता के साथ निपटारा करें।साथ ही ये भी कहा गया है कि अगर अधिकारी इन शिकायतों को गंभीरता से नहीं लेते हैं और इनका सही समाधान गंभीरता से नहीं करते हैं तो ऐसे अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

लोगों की शिकायतों का समाधान करने के लिए सरकार के मंत्री और विधायक अक्सर जनता दरबार लगाते हैं जिसके जरिए लोग अपनी शिकायतें लेकर मंत्रियों के पास जाते हैं और मंत्री और विधायक उन शिकायतों को संबंधित विभाग में भेजते हैं लेकिन ऐसी शिकायतें सरकार को मिली हैं जिसके मुताबिक इन शिकायतों पर संबंधित विभाग के अधिकारी गंभीरता से विचार नहीं करते और न ही इसका समाधान होता है। इन्हीं शिकायकों का संज्ञान लेते हुए मुख्य सचिव ने ये निर्देश तमाम विभागों के अधिकारियों को जारी किए हैं जिसके तहत अधिकारियों को निजी तौर पर शिकायतों का संज्ञान लेने के लिए कहा गया है।


-PTC News