पेपर लीक नेटवर्क को खत्म करने के लिए सरकार ने उठाया कदम, जारी किया टोल फ्री नंबर

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पेपर लीक मामले में कहा कि हमारा प्रयास है कि इस तरह के गलत कामों में लगे गैंग को जड़ से खत्म किया जाए। इस संबंध में पुलिस विभाग को स्पेशल टीम गठित कर गंभीरता से काम करने के आदेश दिए हुए हैं।

Paper leak case Haryana
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2014 से राज्य सरकार द्वारा भ्रष्टाचार को पूरी तरह से समाप्त करने के लिए जीरो टॉलरेंस नीति को अपनाया गया है और अब एक कदम और आगे बढ़ाते हुए पेपर लीक नेटवर्क को खत्म करने के लिए जानकारी देने हेतु राज्य सतर्कता ब्यूरो का एक टोल-फ्री नंबर 18001802022 शुरू किया गया है। इस नंबर पर अभ्यर्थी पेपर लीक की एवज में पैसे मांगने वालों की जानकारी दे सकते हैं।

यह भी पढ़ें- चैटिंग करने से रोका तो पत्नी ने पति को डंडे से पीटा, तीन दांत टूटे

यह भी पढ़ें- प्रकाश सिंह बादल ने क्षेत्रीय पार्टियों से किया एकजुट होने का आह्वान

मुख्यमंत्री ने सभी अभ्यार्थियों से आग्रह किया कि कभी भी पेपर लीक से जुड़ें लोगों ने उनसे संपर्क किया हो, जो उन्हें परीक्षा के प्रश्नपत्रों या उत्तर कुंजी को एडवांस में देने का दावा करते हैं, तो अभ्यार्थी इस टोल-फ्री नंबर पर ऐसे सभी लोगों की जानकारी तुरंत साझा करें ताकि उन्हें पकड़ा जा सके। उन्होंने कहा कि इन अपराधियों को जड़ से पकड़ने में जनभागीदारी निश्चित रूप से अहम भूमिका निभा सकती है।