दिल्ली सरकार ने प्रदूषण की स्थिति को देखते हुए पटाखों पर लगाया प्रतिबंध

Delhi: Diwali firecrackers banned this year too, says Arvind Kejriwal

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने प्रदूषण की स्थिति को देखते हुए पटाखों पर प्रतिबंध लगाए हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर बताया कि पिछले 3 साल से दीवाली के समय दिल्ली के प्रदूषण की खतरनाक स्तिथि को देखते हुए पिछले साल की तरह इस बार भी हर प्रकार के पटाखों के भंडारण, बिक्री एवं उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जा रहा है। जिससे लोगों की जिंदगी बचाई जा सके।


मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले साल व्यापारियों द्वारा पटाखों के भंडारण के पश्चात प्रदूषण की गंभीरता को देखत हुए देर से पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया जिससे व्यापारियों का नुकसान हुआ था। सभी व्यापारियों से अपील है कि इस बार पूर्ण प्रतिबंध को देखते हुए किसी भी तरह का भंडारण न करें।

यह भी पढ़ें- पंजाब सरकार हरियाणा की आर्थिक स्थिति करवाना चाहती है खराब: धनखड़

यह भी पढ़ें- डिपो होल्डर को रिश्वत लेने का दोषी पाए जाने पर कोर्ट ने सुनाई सजा, लगाया जुर्माना
Fine of up to Rs 1 lakh! Delhi revises penalty for violation of noise pollution rules
दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण से निपटने के लिए इस साल केजरीवाल काफी सक्रिय दिख रही है। इससे पहले केजरीवाल ने कहा था कि वह पूसा बायो-डीकम्पोजर की ऑडिट रिपोर्ट के साथ केंद्रीय पर्यावरण मंत्री से मुलाकात करेंगे और उनसे किसानों के बीच इसे मुफ्त वितरित करने के लिए दिल्ली के आसपास के राज्यों को निर्देश देने का आग्रह करेंगे।

Rs 1 Cr fine, 5 years in Jail: New Law to Deal With Air Pollution in Delhiबता दें कि बायो-डीकम्पोजर एक प्रकार का तरल पदार्थ है जो 15-20 दिनों में पराली को खाद में बदल सकता है। पराली भी दिल्ली में प्रदूषण के मुख्य कारणों में से एक है।